You cannot copy content of this page
Horror Story Interesting Facts

भानगढ़ का किला

भानगढ़ का किला
भानगढ़ का किला
Written by Hindibeststory

भानगढ़ का किला भारत के राजस्थान अलवर में स्थित है. इसका निर्माण १७वीं शताब्दी में मान सिंह प्रथम ने अपने छोटे भाई माधो सिंह प्रथम के लिए करवाया था. इस किले का नाम माधो सिंह के पितामह भान सिंह के नाम पर रखा गया है. इस किले की देख रेख भारत सरकार के द्वारा की जाती है. किले के चारो तरफ भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण की टीम मौजूद रहती है. पुरातत्व विभाग द्वारा सूर्यास्त के बाद इस किले में किसी के रुकने पर पाबंदी लगायी गयी है.

राजस्थान के अलवर में चारो तरफ से पहाड़ों से घिरे इस किले में बेहतरीन शिल्‍पकलाओ का प्रयोग किया गया है. इसके अलावा इस किले में भगवान शिव, हनुमान आदी के बेहतरीन और अति प्राचिन मंदिर विध्‍यमान है. इस किले में कुल पांच द्वार हैं और साथ साथ एक मुख्‍य दीवार है.इस किले में मजबूत पत्‍थरों का प्रयोग किया गया है जो अति प्राचिन काल से अपने यथा स्थिती में पड़े हुये हैं.

कहा जाता है कि एक तांत्रिक की बुरी नजर की वजह से यह किला आज विरान हो गया है. कहा जाता है कि भानगढ़ की राजकुमारी रत्नावती बहुत ही खुबसूरत थीं. उसी राज्य में एक तांत्रिक रहता था वह बहुत ही बुरा था. एक दिन उसकी नजर राजकुमारी रत्नावती पर पड़ी. वह राजकुमारी पर मोहित हो गया. वह मौके की तलाश में लग गया.

एक दिन राजकुमारी की दासी तेल लेने बाज़ार में आई. तांत्रिक ने बहाने से उस तेल को अभिमंत्रित कर दिया, जिससे जो कोई भी उस तेल को छुएगा वह खिंचा हुआ चला आएगा. यह बात दासी को समझ आ गयी थी. वह घर लौटते समय तेल को एक शिला पर गिरा दिया. इससे शिला पर मंत्र का असर हुआ और वह सम्मोहित होकर तांत्रिक के तरफ आने लगा और तांत्रिक उसमें दबकर मर गया, लेकिन मृत्यु के पहले उसने अपने शक्तियों से श्राप दे दिया कि इस गाँव के लोग कल का सूरज नहीं देख सकेगा. उसके श्राप का असर ऐसा हुआ की रातो रात पूरा गाँव वीरान हो गया. कहा जाता है कि उस गाँव में मरे लोगों की आत्मा आज भी यहाँ भटकती रहती हैं. भानगढ़ किला एशिया के भुतिया जगहों में से एक है.

मित्रों यह पोस्ट भानगढ़ का किला आपको कैसी लगी जरुर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको अच्छी लगी हूँ तो इसे लाइक, शेयर करें और ब्लॉग को सबस्क्राइब करें और दूसरी horror story के लिए इस लिंक Mussoorie ke Hotel Saway ka Rahasy Horror Story पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

1 Comment

Leave a Comment