You cannot copy content of this page
Interesting Facts

जनिये क्या है राजद्रोह , AFSPA

जनिये क्या है राजद्रोह , AFSPA
जनिये क्या है राजद्रोह , AFSPA
Written by Hindibeststory

जनिये क्या है राजद्रोह , AFSPA क्या हैं AFSPA और राजद्रोह कानून जिसे कांग्रेस ने २०१९९ के लोकसभा चुनाव के अपने मेनिफेस्टो में जगह दी है और इसे हटाने के लिए कहा है. AFSPA का फुलफार्म Armed Forces Special Power Act है. इसे हिंदी में सशस्त्र बल विशेष शक्तियां अधिनियम कहा जाता है. ये कानून किसी राज्य या इलाके में तब लागू किया जाता है, जब वहां हालात अशांत हो जाते हैं और विद्रोह या मिलिटेंसी बढ़ जाती है. ऐसे इलाकों में सैन्य सुरक्षा बलों को अतिरिक्त विशेषाधिकार मिलते हैं. इस कानून में आर्म्ड फोर्सेज को तलाशी लेने, गिरफ्तार करने और बल प्रयोग करने की ज्यादा स्वतंत्रता होती है.

भारत में अफस्पा जम्मू-कश्मीर और उत्तर पूर्वी राज्यों के कई हिस्सों में लागू किए जा चुके हैं. उत्तर पूर्व के मणिपुर, त्रिपुरा और मेघालय में इसे खत्म किया जा चुका है, लेकिन आंशिक रूप से ये अभी भी कई जगह मौजूद है. समय-समय पर इन इलाकों में AFSPA को लेकर बड़े पैमाने पर विरोध होता रहा है. उत्तर पूर्व के मणिपुर से लेकर जम्मू-कश्मीर तक अफस्पा का विरोध करते हुए लोग सड़कों पर उतरते हैं. लोगों की शिकायत होती है कि सेना के लोग इस कानून का नाजायज फायदा उठाकर लोगों पर जुल्म करते हैं. AFSPA के खिलाफ मणिपुर की सामजिक कार्यकर्ता इरोम शर्मीला ने ४ नवम्बर २००० को अनशन शुरू किया और १६ साल बाद २०१६ में इन्होने अपना अनशन ख़त्म किया. यह अनशन तब शुरू हुआ जब कथित रूप से असम राइफल के जवानों ने इंफाल एयरपोर्ट के पास बस स्टॉप पर बस का इंतजार कर रहे १० लोगों को गोलियों से भून डाला था.

अब बात करते हैं राजद्रोह , यह भारतीय दंड संहिता की धारा 124 -A है. ब्रिटिश राज के दौरान साल १८६० में थॉमस मैकाले ने सेडिशन यानी राजद्रोह का कानून बनाया था. लेकिन पहले ये दंड संहिता यानी पीनल कोड का हिस्सा नहीं था, साल १८७० में इसे दंड संहिता में जोड़ा गया . मौजूदा समय में इंडियन पीनल कोड की धारा 124 -A के तहत सेडिशन यानी राजद्रोह को परिभाषित किया जाता है. इस कानून के मुताबिक, अगर कोई भी शख्स मौखिक, लिखित या सांकेतिक रूप से सरकार के खिलाफ नफरत, लोगों को भड़काना या सरकार की अवमानना करता है तो वो इस धारा के तहत राजद्रोही करार दिया जाता है. ये कानून देश के प्रतीकों जैसे संविधान, राष्ट्रीय चिन्ह का अपमान करने पर भी लागू किया जाता है.मित्रों आपको यह जानकारी जनिये क्या है राजद्रोह , AFSPA कैसी लगी जरुर बताएं और इस तरह की और भी जानकारी के लिए इस ब्लॉग को लाइक , शेयर और सबस्क्राइब करें और दूसरी पोस्ट के लिए इस लिंक subarnarekha nadi पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

1 Comment

Leave a Comment