You cannot copy content of this page

Category - Bhakti Story

इस कैटेगरी Bhakti Story में आपको सभी प्रकार की भक्ति स्टोरी, पौराणिक कथाएं , भगवान् की कहानिया , धार्मिक कहानिया , रामायण , भगवान् विष्णु की कहानिया, bhagwaan shankar ki katha , भगवान् गणेश की कहानी, श्रीराम कथा, भगवान् कृष्ण की कहानी, मिलेगी. भीम का विवाह हिडिंबा नामक एक राक्षसी के साथ भी हुआ था. वह भीम पर आसक्त हो गई थी और उसने स्वयं आकर माता कुंती से प्रार्थना की थी कि वे उसका विवाह भीमसेन के साथ करा दें. कुंती ने उस विवाह की अनुमति दे दी, लेकिन भीमसेन ने विवाह के समय एक वचन उससे ले लिया कि एक संतान पैदा होने के पश्चात वह संबंध तोड़ लेंगे . कुछ दिन पश्चात हिडिम्बा ने विचित्र बालक को जन्म दिया, जिसका मस्तक हाथी के मस्तक जैसा और सिर केश-शून्य था.

Bhakti Story इसी कारण उसका नाम घटोत्कच (घट=हाथी का मस्तक और उत्कच=केशहीन) पड़ा. चूंकि घटोत्कच की माता एक राक्षसी थी, पिता एक वीर क्षत्रिय था, इसलिए इसमें मनुष्य और राक्षस दोनों के मिश्रित गुण विद्यमान थे. यह बड़ा क्रूर और निर्दयी था. पाण्डवों का बड़ा आत्मीय था. पांचों भाई इसको अपना पुत्र समझकर प्यार करते थे, इसलिए यह उनके लिए मर-मिटने को सदैव तत्पर रहता था. महाभारत युद्ध के बीच इसने अपना पूर्ण पौरुष दिखाया था. देखा जाए तो इसने वह काम किया, जो एक अच्छे से अच्छा महारथी नहीं कर पाता. अभिमन्यु की छलपूर्वक ह्त्या का बदला जब अर्जुन ने जयद्रथ को मार कर लिया तो इससे कौरव सेना की बड़ी क्षति हुई और शकुनी ने रात्री काल में ही सोये हुए पांडवों पर नियम विरुद्ध आक्रमण करने का सुझाव दिया. जिसका गुरु द्रोणा ने विरोध किया , लेकिन दुर्योधन के आगे उनकी एक ना चली और कौरव सेना ने रात्री में ही विश्राम कर रहे पांडवों पर आक्रमण कर दिया.

Bhakti Story

satyavan savitri . savitri satyavan

satyavan savitri . savitri satyavan मद्रदेश के अश्वपतिनाम का एक बड़ा ही धार्मिक राजा था. जिसकी...

Bhakti Story

ganesha story

ganesha story एक समय जब माता पार्वती मानसरोवर में स्नान कर रही थी तब उन्होंने स्नान स्थल पर कोई आ न...

Bhakti Story

parshuram परशुराम

parshuram परशुराम मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम जिनका सादर नमन करते हों, उन शस्त्रधारी और शास्त्रज्ञ...