Pari ki kahani

Cinderella ki Kahani . Cinderella Story in Hindi . सिंडरेला की कहानी

Cinderella ki kahani in hindi
Written by Abhishek Pandey

cinderella ki kahani

Cinderella Story in Hindi सिंडरेला की कहानी

 

 

 

Cinderella ki Kahani सोनू मोनू और cinderella फ़ुटबाल खेल रहे थे. खेलते खेलते सोनू ने एक तेज किक लगा दी और फ़ुटबाल तेजी से लुढ़कते हुए पास की एक छोटी सी गुफा में चली गयी.

 

 

 

क्या सोनू मैं पहले ही कहा था कि आराम से खेलेंगे, अब फ़ुटबाल गुफा में चली गेई ना..मोनू चिढते हुए बोला।

 

 

 

अरी कोई बात नहीं, चलो हम गुफा से फ़ुटबाल ले आते हैं…cinderella मुस्कुराते हुए बोली।

 

 

 

तीनों गुफा के पास गए और थोड़े ही अन्दर पर फ़ुटबाल एक छोटे से पत्थर से टकराकर रुक गयी थी. ये रही फ़ुटबाल सोनू चहककर बोला और उसने दौड़कर फूटबल उठा ली।

 

 

 

अरे यह क्या है…तभी मोनू आश्चर्य से बोला।

 

 

 

हाँ यह तो किसी स्पेसशिप जैसा दिख रहा है….सोनू ने कहा।

 

 

 

कहीं यह टाइम मशीन तो नहीं है …. cinderella ने कहा।

 

 

चलो चलकर देखते हैं…..तीनो एक स्वर में बोले।

 

 

 

हां सोनू यह तो टाइम मशीन की तरह है….मोनू ख़ुशी से उसे निहारते हुए बोला।

 

 

 

यह क्या…क्या कर रहे हो मोनू…..cinderella cinderella कहा हो तुम. क्या किया मोनू तुमने…सोनू परेशान होकर बोला।

 

 

 

मैंने कुछ नहीं किया. मैं तो केवल इस मशीन का ५ अंक दबाया…मोनू ने सफाई दी।

 

 

 

अब क्या होगा …..cinderella कहा चली गयी …..सोनू घबराते हुए बोला।

 

 

 

एक मिनट मैं वापस इसी अंक को दबाता हूँ …क्योंकि पहले यह नीला था अभी यह लाल हो गया है….मोनू ने कहा।

 

 

 

ठीक है…..सोनू शांत मन से बोला।

 

 

 

यह क्या ५ अंक दबाते ही cinderella वापस आ गयी।

 

 

 

कहा चली गयी थी तुम cinderella ..दोनों ने एक साथ पूछा।

 

 

 

सचमुच बहुत ही प्यारी जगह थी वह…यह सचमुच टाइम मशीन है…cinderella ख़ुशी से चहकते हुए बोली।

 

 

 सिंडरेला की कहानी हिंदी में 

 

 

क्या सचमुच में..अरी वाह तो चलो हम सभी वहा चलते हैं…..मोनू ख़ुशी से कूदते हुए बोला।

 

 

हम वहा खूब मस्ती करेंगे…..सोनू ने भी हाँ में हाँ मिलाई।

 

 

 

ठीक है , लेकिन हमें वहाँ से जल्दी वापस आना होगा …..क्योंकि वहाँ रात जल्द हो जाती है और रात को यह टाइम मशीन काम नहीं करती है….cinderella ने कहा।

 

 

 

हाँ ठीक है फिर चलते हैं…..और मोनू ने फिर से वही ५ अंक दबाया और सभी पहुँच गए उस खुबसूरत जगह पर।

 

 

वाव…..कितनी प्यारी जगह है….बहुत ही खुबसूरत…यहाँ लोग कितने खुबसूरत हैं…..सोनू ने कहा।

 

 

 

हाँ….कितने अच्छे फुल हैं…यह देखो कितना अच्छा रास्ता है…ऐसा लग रहा है हम स्वर्ग में आ गए हैं…..मोनू ने कहा।

 

 

 

हाँ बच्चों आप लोग स्वर्ग में ही तो हो…यह हमारी धरती ही है…बाद में मानव इसका दुरपयोग करके इसकी खूबसूरती छीन लेंगे….एक बाबा ने यह बात कही।

 

 

 

सोनू मोनू कुछ बोलते, इसके पहले ही cinderella ने कहा, यही वे बाबाजी हैं, जिनसे मैं पहले मिली थी. इन्होने ही बताया कि यहाँ रात जल्द होती है।

 

 

 

Cinderella ki kahani सिंडरेला स्टोरी 

 

 

 

बाबा अगर धरती इस समय इतनी खुबसूरत है तो फिर हमारे समय में सब कुछ बदल क्यों गया. क्यों मौसम एक समान नहीं रहता है ? क्यों बार बार भूकंप, सुनामी आ रहे है ? क्यों ग्लोबल वार्मिंग बढ़ रही है ? सोनू ने आश्चर्य से पूछा।

 

 

 

बेटा, मानव ने प्रकृति का अत्यधिक दुरपयोग किया. प्रकृति ने मानव को सब कुछ दिया , लेकिन मानव की ख्वाहिस बढाती चली गयी और इसी नतीजा है आज हालत बदतर हो गए हैं और अगर अब भी नहीं संभले तो वह दिन दूर नहीं जब सब कुछ समाप्त हो जाएगा….बाबा ने चिंतित स्वर में कहा।

 

 

 

तो हमें इससे बचने के लिए क्या करना होगा…मोनू ने पूछा।

 

 

 

पेड़ लगाने होंगी , पृथ्वी के संसाधनों का सिमित प्रयोग करना होगा. तभी हम धरती को बचा सकते है…बाबा ने उत्तर दिया।

 

 

 

बाबा, हम ढेर सारा पेड़ लगायेंगे और पृथ्वी को बचायेंगे…तीनो ने एक साथ कहा।

 

 

 

बहुत अच्छे…अब आप लोग घूमों और समय से वापस चले जाना और यह कहकर बाबा चले गए और सोनू , मोनू और cinderella ने खूब मस्ती की।

 

 

Cinderella ki Dusari Kahani

 

 

 

 

तीनों ने खूब सारे दोस्त भी बना लिए और समय वापस लौट आये और प्रण लिया कि वे ढेर सारा पेड़ लगाएंगी और पृथ्वी को बचायेंगे. मित्रों यह cinderella story in hindi cinderella ki kahani आपको कैसी लगी अवश्य ही बताये और रोज नयी hindi stories के लिए इस ब्लॉग को सबस्क्राइब कर लें और भी अन्य hindi story के लिए नीचे की लिंक पर क्लिक करें।

 

 

1- Pari ki kahani परी की बेहतरीन कहानियां . बच्चो की खूबसूरत कहानी हिंदी में जरुर पढ़े

2- Pari ki kahaniyan अच्छी परी की कहानी हिंदी में : बच्चों की कहानियां

3- pari kahani

About the author

Abhishek Pandey

Leave a Comment