image

lord shiva image

lord shiva image
lord shiva image

lord shiva image पुरानो की अनुसार भगवान् शिव का जन्म नहीं हुआ है, वे स्वयंभू हैं.लेकिन कहीं कही lord shiva के जन्म का वर्णन मिलता है.इसको लेकर कई तरह की भिन्नताएं हैं. विष्णु पुराण की अनुसार ब्रह्मा जी भगवान् विष्णु कि नाभि कमल से पैदा हुए और lord shiva भगवान् विष्णु कमाते के तेज से उत्पन्न हुए. पुराणों के अनुसार माथे के तेज से उत्पन होने के कारण भगवान् शिव हमेशा योगमुद्रा में रहते हैं.

lord shiva image

lord shiva

lord shiva image

bhagwan shankar image

lord shiva image

lord shiva

श्रीमद् भागवत के अनुसार एक बार जब भगवान विष्णु और ब्रह्मा अहंकार से अभिभूत हो स्वयं को श्रेष्ठ बताते हुए लड़ रहे थे. तब एक जलते हुए खंभे से भगवान शिव प्रकट हुए.
विष्णु पुराण में वर्णित शिव के जन्म की कहानी शायद lord shiva का एकमात्र बाल रूप वर्णन है. इसके अनुसार ब्रह्मा को एक बच्चे की जरूरत थी. उन्होंने इसके लिए तपस्या की. तब अचानक उनकी गोद में रोते हुए बालक शिव प्रकट हुए. ब्रह्मा ने बच्चे से रोने का कारण पूछा तो उसने बड़ी मासूमियत से जवाब दिया कि उसका कोई नाम नहीं है इसलिए वह रो रहे है.

lord shiva image

shiv pic

lord shiva image

shiv shankar hd wallpaper

lord shiva image

shiv pic

तब भगवान् ब्रह्मा ने उनका नाम रूद्र रखा. रूद्र का अर्थात होता है रोने वाला .

lord shiva image

lord shiv

lord shiva image

shiva image

भगवन शिव इस पर भी चुप नहीं हुए तो ब्रह्मा जी ने उनका नाम शिव रखा, लेकिन भगवान् शिव इस पर भी चुप नहीं हुए. तब ब्रह्मा जी ने इक एक कर उनकी आठ नाम रखे. रूद्र,शर्व,भाव,उग्र,भीम,पशुपति,ईशान,महादेव यह भगवान् शिवव के आठ नाम है.

lord shiva image

shiva image

lord shiva image

shiva image

मित्रों आपको यह पोस्ट lord shiva image कैसी लगी जरुर बताएं और इस तरह कि और भी पोस्ट के लिए ब्लॉग को जरुर सबस्क्राइब कर लें और भी इस तरह की दूसरी पोस्ट के लिए इस लिंक love image पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

Leave a Comment