You cannot copy content of this page
Interesting Facts

Mission Shakti

Low Earth Orbit
Low Earth Orbit
Written by Hindibeststory

Mission Shakti प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश के नाम पर एक महत्वपूर्ण संदेश दिया और भारत द्वारा अंतरिक्ष में हासिल की गई उपलब्धि के बारे में जानकारी दी. प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि भारतीय वैज्ञानिकों ने पृथ्वी की निचली कक्षा में एंटी सेटेलाइट मिसाइल से एक सैटेलाइट को मार गिराया है. पीएम मोदी ने यह भी बताया कि यह सेटेलाइट भारत में ही बनाया गया है और यह पूर्ण स्वदेसी है. भारतीय वैज्ञानिकों ने इस मिशन को सिर्फ तीन मिनट में पूरा कर लिया. वैज्ञानिकों ने पृथ्वी की निचली कक्षा यानी Low Earth Orbit में इस ऑपरेशन को अंजाम दिया. ऐसे में बहुत से लोग ये सोचने पर मजबूर हुए कि आखिर ये LEO अर्थात Low Earth Orbit क्या है, तो आइये हम आपको बताते हैं कि ये क्या है और यहां पर वैज्ञानिकों ने किस तरह से mission shakti ऑपरेशन को अंजाम तक पहुंचाया,

भारत ने पृथ्वी की सतह से ३०० किलोमीटर दूर एक लाइव अर्थात सजीव सैटेलाइट को गिराया है. भारत अंतरिक्ष में ये उपलब्धि हासिल कर अमेरिका, चीन और रूस के बाद ऐसा करने वाला चौथा बड़ा देश बन गया है. बता दें कि लो अर्थ ऑर्बिट यानी पृथ्वी की निचली कक्षा पृथ्वी के सबसे नजदीक ऑर्बिट (कक्षा) है. यह पृथ्वी की सतह से १६० किलोमीटर (९९ मील) और २००० किलोमीटर (१२०० मील) के बीच ऊंचाई पर स्थित है. यह पृथ्वी की सतह से सबसे नजदीक है, लो अर्थ ऑर्बिट के बाद मिडियन अर्थ ऑर्बिट, Geosynchronous ऑर्बिट और उसके बाद हाई अर्थ ऑर्बिट है. हाई अर्थ ऑर्बिट पृथ्वी की सतह से ३५७८६ किलोमीटर पर स्थित है.

भारत ने यह परिक्षण कर एक तरह से एयर स्ट्राइक की है. पुरे विश्व में अब इन ४ देशों के अलावा किसी ने भी यह उपलब्धि हासिल नहीं की है. मित्रों आपको यह जानकारी Mission Shakti कैसी लगी जरुर बताएं और इसतरह की जानकारी के लिए ब्लॉग को लाइक , शेयर और सबस्क्राइब करें और दूसरी जानकारी के लिए इस लिंक Article 13 पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

Leave a Comment