Small Moral Stories in Hindi For Class 7  / Moral stories in Hindi

Small Moral Stories in Hindi For Class 7 / Moral stories in Hindi

Best Moral Stories in Hindi For Class 7

 

 

Moral Stories in Hindi For Class 7 With Pictures यह दो जलपरियों की कहानी है। इसमें Moral Stories in Hindi For Class 8 With Moral की Stories in Hindi For Reading  दी गयी है।  एक बड़ी नदी में दो जल परियां रहती थी।  एक का नाम कमला था और दूसरी  का नाम विमला था।  कमला एक नरम दिल की जलपरी थी तो वहीँ  विमला थोड़ी कड़क स्वभाव की।

 

 

सब कुछ अच्छे से चल रहा था और सभी मछलियां उसमें बहुत ही खुशी से रहती थी।  बारिश का मौसम आया और एक दिन तेज बाढ़ आई और उस बाढ़ में दूसरी नदी से केकड़ा तथा अन्य  जलीय जीव उस नदी में आ पहुंचे।

 

 

 

जलीय जीव मछलियों को मारकर खाने लगे।  इससे मछलियों में आतंक छा गया।  मछलियों ने आपस में विचार किया कि अगर हम इन जलीय जीव का सामना नहीं करेंगे तो फिर यह हमें मार कर खा जाएंगे।

 

 

 

 

एक मछली ने कहा, ”  हमें इनका सामना करने के लिए एक नेतृत्व की आवश्यकता होगी तो फिर क्यों ना हम अपनी रानी चुने।  ” इस बात का सभी मछलियों ने स्वागत  और समर्थन किया।

 

 

 

उसके बाद  सभी मछलियां दोनों  जल परियों के पास पहुंची और उन्हें अपने फैसले से अवगत कराया।  यह सुनकर विमला ने कहा, “मछलियों की रानी मैं ही बनूंगी क्योंकि मेरा स्वभाव कड़क है और मैं बाहर से आए सभी जलीय जीव को मार कर भगा दूंगी और मछलियों को खाना भी दूंगी। ”

 

 

 

 

यह सुनकर कमला ने कहा, “नहीं मुझे इस नदी की रानी बनना चाहिए क्योंकि मेरा स्वभाव नरम है और मैं फैसला सोच समझ कर लेती हूं।  ” लेकिन सभी विमला के पक्ष में थी क्योंकि जलीय जीव को भगाने के लिए एक कड़क स्वभाव की जलपरी चाहिए थी और उस पर विमला ने उन्हें फ्री में खाना खिलाने की बात भी कह दी थी।

 

 

 

सभी मछलियों ने विमला को रानी चुन लिया।  उसके बाद विमला ने एक-एक करके सभी बाहरी जलीय जीव को भगा दिया और इससे मछलियों में पर्याप्त मात्रा में भोजन हो गया।

 

 

 

अतः उन्हें फ्री का भोजन की आवश्यकता ही नहीं रह गई  और सभी खुशी से रहने लगे कि अचानक एक दिन एक केकड़ा विमला से मिलने आया और उसने अपनी चापलूसी भरी बातों से विमला को फंसा लिया।

 

 

 

मोरल स्टोरी इन हिंदी 

 

 

 

उसने कहा, ” आप तो इस नदी की रानी है।  आपका सभी प्रजा पर  पूरा हक है तो फिर आप हमें इस नदी से क्यों भगा रहीं हैं  क्या हम आपकी प्रजा नहीं हैं ? अगर आप हमें नदी में रहने दे तो फिर हम आपको बहुत अच्छा अच्छा भोजन कराएंगे।  आपको किसी प्रकार का कुछ भी काम करने की आवश्यकता नहीं होगी।   हम आपके लिए सब  काम करेंगे।  ”

 

 

 

 

विमला  लालच में आ गई और उसने कहा, ” ठीक है।  लेकिन तुम नदी में आतंक नहीं मचाओगे और मछलियों को नहीं मारोगे।”  तब उस केकड़े ने कहा, ” अगर हम मछलियों को महीन मारेंगे तो हम अपना भोजन कैसे करेंगे?  कृपया आप ही इसका समाधान बताएं।  ”

 

 

 

जलपरी ने कहा, ” ठीक है।  तुम लोग  अपनी आवश्यकतानुसार मछलियों को मारो लेकिन उन्हें तंग मत करो और ज्यादा की संख्या में उन्हें मत मारो।  ”

 

 

 

 

इस पर केकड़े ने जलपरी का धन्यवाद किया और वहां से चला गया।  यह सब बातें कमला नामक जलपरी सुन रही थी। उसने यह सब बातें अन्य मछलियों को बताई।

 

 

 

Very Short Moral Stories in Hindi For Class 7

 

 

 

सभी  मछलियों में कोलाहल मच गया। उन्हें अपने फैसले पर अफसोस हो रहा था लेकिन अब क्या किया जा सकता था।  नदी  की मछलियां एकजुट होकर विमला के पास गयीं  और उससे पूछा कि आपने ऐसा क्यों कहा ? अब हम कहाँ जाएँ ?

 

 

 

इस पर विमला ने कहा, ” मैं इस नदी की रानी हूं इसलिए मैंने जो फैसला लिया है वह सोच समझ कर लिया है।  ” सभी मछलियां निराश होकर वहां से चली गई।

 

 

 

केकड़े तथा दुसरे जलीय जीव  – जंतु   धीरे-धीरे करके मछलियों को खाने लगे। एक  दिन की बात है विमला जलपरी एक मछुआरे के जाल में फंस गई और वहा से बचाओ बचाओ करके चिल्लाने लगी।

 

 

 

सभी मछलियां खुश थी।  एक मछली ने कहा, ”  चलो अच्छा हुआ आज तुम्हें फल मिल रहा है।  अब तक तुमने बहुत सारी मछलियों की हत्या करवाई है।  आज तुम्हें भगवान ने उसका फल दिया है। ”

 

 

 

तभी अचानक से वहाँ पर कमला जलपरी आ पहुंची और विमला को बचाने लगी।   तब मछलियां बोली आप इसे क्यों बचा रही है ? इसने बहुत सारी मछलियों की हत्या करवाई है।

 

 

 

 

तब कमला ने कहा अगर हम इसे नहीं बचाएंगे तो हमारे और इस में फर्क क्या रह जाएगा और उसके बाद कमला ने विमला को बचा लिया।  उसके बाद विमला ने सभी मछलियों से माफी मांगी और उसके बाद कमला और विमला दोनों जलपरियों ने मिलकर केकड़ों और अन्य दुसरे जलीय खतरनाक जलीय जीव – जंतु को उस नदी से भगा दिया।  उसके बाद दोनों जलपरियाँ और मछलियाँ ख़ुशी से रहने लगी।

 

 

 

मित्रों यह Long Moral Stories in Hindi For Class 7 आपको कैसी लगी जरूर बताएं और Moral Stories in Hindi For Class 7 Wikipedia की तरह की दूसरी कहानी के लिए इस ब्लॉग को सब्स्क्राइब जरूर करें और Moral Stories in Hindi For Class 3 Pdf   को शेयर भी जरूर करें।t

 

 

1- Kahani in Hindi Pdf / Kahani in Hindi For Kids / हिंदी की कहानियां

2- Moral Story In Hindi

 

 

Leave a Reply