You cannot copy content of this page
Moral Story

moral story in hindi

moral story in hindi जीवन में हमें कई तरह की परेशानीयाे का सामना करना पड़ता है और आप सकारात्मक सोच पर कहानी पढ रहे है. सकारात्मक सोच सेआप जीवन की तमाम परेशानियों से लड़ सकते है.

अगर आप हमेशा नकारात्मक विचारों के बारे में साेचेगें तो हर काम आपकाे कठिन ही लगेगा.

एक कहावत है न .. …. “जेेैसी चाह वैसी राह

आप  Hindibeststory.com  पर मेरी कहानी  moral story in hindi पढ रहे हैं.

moral story in hindi

sadhu image

बात बहुत पुरानी है. एक संत अपने शिष्याे के साथ एक जंगल से कहीं जा रहे थे.
अचानक उन्हें प्यास लगी, वो पानी की तलाश में आगे बढ़ने लगे.
आगे चलने पर उन्हें एक तालाब दिखाई दिया. मीठी -मिठी  फूलों की सुगंध…. धीमी गति से बहती हवा… चिड़ियाे की चहचहाहट… बहुत ही मनोरम दृश्य था.

संत ने अपने शिष्याे से कहा कि हम थक गये हैं ,यहा बहुत ही मनोरम वातावरण है. हम कुछ देर आराम करेंगें, फिर गंतव्य काे प्रस्थान करेंगें.

संत और उनके शिष्य थाेडा आराम करने के उद्देश्य से वहा बैठ कर प्रकृति का आनंद ले रहे हाेते है, कि अचानक से देखते हैं कि एक मछुआरा मछलियाँ पकड़ने आता है.

moral story in hindi

sadhu image

संत बडे ध्यान से उसकी क्रिया काे देखते हैं.
फिर अपने शिष्याे से कहते हैं कि देखाे कैसे मछुआरे के जाल में कुछ मछलियाँ एकदम निढाल हैं…. कुछ मछलियाँ छटपटाते हुये निकलने का प्रयास कर रही हैं और कुछ सफल भी हाे रही हैं.

फिर संत ने शिष्याे से पूछा कि इसका जीवन में क्या मतलब है.
शिष्य एक दूसरे को देखने लगे.
तब संत बाेले मैं बताता हूं…… मनुष्य भी ठीक ऐसे ही हाेते है.

कुछ मनुष्य होते हैं जाे साेच लेते है कि अब कुछ हाे ही नहीं सकता… सब कुछ खत्म हो गया है.. आैर शान्त होकर बैठ जाते हैं.

दूसरे हाेते हैं जो जाेश में आकर प्रयास ताे करते हैं लेकिन फिर शान्त हाेकर बैठ जाते हैं जिससे उनका भी पतन हाे जाता है.

लेकिन इसके विपरीत जो तीसरे हाेते हैं वे निरंतर प्रयास करते हैं और जीवन में सफल होते हैं.
वह सकारात्मक सोच के लोग हाेते हैं.

तो हमें निरंतर प्रयास करना चाहिए. सकारात्मक हाेना चाहिए. सकारात्मक सोच रखनी चाहिए. हम जीवन की प्रत्येक बाधा का पार कर लेगें.इस कहानी से हमें यही सीख मिलती है. दोस्तों अन्य hindi story के लिए इस लिंक जीवन की गणित moral stories in hindi पर  क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

Leave a Comment