hindi funny stories

mulla nasruddin stories मुल्ला नसरुद्दीन का प्रवचन

mulla nasruddin stories मुल्ला नसरुद्दीन का प्रवचन
Written by Abhishek Pandey

mulla nasruddin stories मुल्ला नसरुद्दीन का प्रवचन  एक बार mulla nasaruddin को प्रवचन देने के लिए बुलाया गया. mulla nasruddin इस बात से बड़े खुश थे.

 

 

वे समय से कार्यक्रम में पहुँच गए और तत्काल ही मंच पर चढ़ गए और उपस्थित लोगों से पूछा कि ” क्या आप जानते हैं कि मैं क्या बताने वाला हूँ ? लोगों का जवाब नहीं था.

 

 

इस पर mulla nasruddin बड़े नाराज हो गए और बोले जब आप लोगों को पता ही नहीं कि मैं क्या बोलने वाला हूँ तो आपके सामने बोलने का क्या फायदा ?

 

 

यह कहते हुए वे मंच से चले गए. इससे वहाँ मौजूद लोगों को थोड़ी शर्मिंदगी हुई और अगले दिन mulla nasruddin को फिर से बुलाया गया और जब फिर से mulla nasruddin ने वही प्रश्न दोहराया तो इस पर वहाँ मौजूद लोगों ने कहा ” हाँ, हमें पता है “.

 

 

 

इस पर mulla nasruddin ने कहा कि जब आपको सब पता ही जब आपको सब पता ही है तो फिर मन यहाँ अपना समय बर्बाद क्यों करूँ. यह कहकर mulla nasruddin वहा से निकल लिए.

 

 

उनके इस कृत्य पर लोग थोड़ा क्रोधित हुए और उनके खिलाफ नारेबाजी हुई. आयोजको ने किसी तरह माहौल को संभाला और लोगों को कुछ समझाया.

 

 

 

 

एक बार फिर से mulla nasruddin को कार्यक्रम में बुलाया गया और इस बार फिर से mulla nasruddin ने वही प्रश्न दुहाराया , लेकिन इस बार योजना के अनुसार आधे लोगों ने हाँ में सिर हिलाया और आधे लोगों ने ना में सिर हिलाया.

 

 

 

इस पर पहले तो mulla nasruddin हिचकिचाये लेकिन अगले ही पल उन्होंने कहा कि इन सब चीजों से समय बर्बाद होता है. अतः जिन लोगों ने हाँ कहा है वे ना कहने वालों को इस बारे में बता दे और यह कहते ही mulla nasruddin तेजी से वहाँ से निकल लिए और पब्लिक आयोजकों के खिलाफ और उनके खिलाफ नारेबाजी कराती रही.

 

मित्रों यह hindi kahani mulla nasruddin stories मुल्ला नसरुद्दीन का प्रवचन  कैसी लगी जरुर बताएं और भी ऐसे ही hindi kahani के लिए ब्लॉग को जरुर सबस्क्राइब कर लें और भी दूसरी moral stories के लिए इस लिंक जीवन की गणित moral stories in hindi पर क्लिक करें.

About the author

Abhishek Pandey

Leave a Comment