You cannot copy content of this page
Bhakti Story image

shanidev ki pic

shanidev ki pic
shanidev ki pic

shanidev ki pic मित्रों इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको शनिदेव की इमेज दे रहे हैं, जिसे आप फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं.

आनंद रामायण की एक कथा के अनुसार लंका पर चढ़ाई के लिए समुद्र पर बांधे गए पुल की सुरक्षा का भार हनुमानजी को सौपा गया था. हनुमानजी रात में भगवान् राम का ध्यान करते हुए पुल की रक्षा कर रहे थे, तभी वहाँ शनिदेव आ पहुंचे और हनुमानजी को व्यंग बाणों से परेशान करने लगे.

shanidev ki pic

shanidev ki pic

shanidev ki pic

shanidev

shanidev ki pic

shanidev pic

उनके व्यंग बाणों और सारे आक्षेपों को स्वीकार करते हुए बजरंगबली ने कहा कृपया वे उन्हें पुल की रक्षा करने दें , लेकिन शनि देव बाज नहीं आ रहे थे. वे लगातार उसी तरह से परेशान करते रहे. अंततः हनुमान जी के सब्र का बाँध टूट गया और उन्होंने शनि देव को अपनी पूंछ में जकडकर इधर उधर, ऊपर नीचे , आगी- पीछे पटकना शुरू कर दिया. अब शनिदेव का घमंड चूर चूर हो गया था और वे हनुमान जी से क्षमा माँगने लगे.

shanidev ki pic

shanidev pic

shanidev ki pic

shanidev

shanidev ki pic

shanidev

कुछ देर बाद हनुमानन जी ने उन्हें छोड़ दिया. चूँकि शनिदेव काफी चोटिल हो गए थे और उन्हें बहुत दर्द हो रहा था सो उन्होंने हनुमान जी से सरसों का तेल माँगा, जिससे दर्द कम हो सके. इसपर हनुमान जी ने कहा आपको एक बात माननी होगी, जो भी भक्त शनिवार के दिन आपको सरसों का तेल अर्पित करेगा और नियमित मेरी पूजा करेगा, शनिवार और मंगलवार को हनुमान चालीसा का जाप करते हुए विधि विधान से पूजा करेगा, उस पर आप अपनी दृष्टि नहीं डालेंगे. शनिदेव इस बात को मान गए और तभी से शनि देव को सरसों का तेल चढ़ाया जाता है.

shanidev ki pic

shanidev

shanidev ki pic

shanidev

मित्रों आपको यह स्टोरी और इमेज अगर पसंद आई हो तो इसे लाइक , शेयर और सबस्क्राइब करें . इस हिंदी ब्लॉग पर रोज कई सारी कहानिया पोस्ट की जाती है. और दूसरी इमेज के लिए इस लिंक kaliji ka photo पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

Leave a Comment