हास्य कहानिया

shekh chilli ki kahani

भरोसा hindi kahaniya
भरोसा hindi kahaniya

shekh chilli ki kahani ऊपर वाला जाने shekh chilli अपनी मुर्खता के लिए प्रसिद्ध थे. एक बार की बात है. shaikh chilli एक बार अँधेरी काली रात में कहीं से आ रहे थे. तभी उनके बगल से ३ चोर गुजरे . उन्हें देखकर shekh chilli ने उनसे पूछा कि आप लोग कहा जा रहे हो. चोरों ने सोचा इतनी रात को कोई शरीफ आदमी तो घूमेगा नहीं , हो ना हो यह भी हमारी तरह चोर ही हों. उन्होंने कहा कि हम चोरी करने जा रहे हैं. यह सुनकर shekh chilli ने सोचा क्यों ना मैं भी चोरी करने चलूँ. हो सकता है कुछ नया सीखने को मिले.

shekh chilli ki kahani
shekh chilli ki kahani

जब shekh chilli उन चोरों से कहा कि वे भी साथ चलना चाहते हैं , तो चोरों ने ना कह दिया , लेकिन बार – बार मिन्नतें करने के बाद वे shaikh chilli को साथ ले लिए. लेकिन चोरों ने उन्हें शख्त हिदायत दी कि वे हमेशा छुपे रहेंगे और जैसा हम कहेंगे वैसा ही करेंगे. चोरों ने एक अमीर घर को चुना और अन्दर घुसते ही पैसे और गहनों की खोज में लग गए . shekh chilli की यह पहली चोरी थी, अतः वे बड़े ही उत्साहित थे. उन्होंने सोचा क्यों ना वे भी गहनों और पैसों को खोजे और दुसरे चोरों की मदद करें.

shekh chilli बड़े उत्साह से गहनों और पैसों की खोज में लग गए. तभी उन्हें खीर की खुशबु आयी . वे धडाधड पहुचे रसोई घर में. अब उनके दिमाग से चोरी की बात जाती रही. उन्हें सिर्फ और सिर्फ खीर ही नजर आ रही थी. shekh chilli दबे पाँव रसोई घर जा पहुंचे. उन्होंने देखा कि बुढ़िया खीर पकाते पकाते वहीँ सो गयी थी. खीर देख shaikh chilli के मुंह में पानी आ रहा था. उन्होंने फ़टाफ़ट प्लेट निकाली और जैसे ही खीर खाने गए कि उनकी नजर फिर से बुढ़िया पर गयी.

कुर्सी पर सो रही बुढ़िया का हाथ सरक कर ऐसा हो गया था जैसे वह कुछ मांग रही हो. यह देखकर shaikh chilli ने सोचा, लगता है बुढ़िया भूखी है और वह खीर मांग रही है. बस फिर क्या था shekh chilli ने उसके हाथ पर गरम खीर रख दी. खीर रखते ही बुढ़िया जाग गयी और शोर मचाने लगी . उसका शोर सुनकर उसके घर लोग और अगल बगल के लोग भी जुट गए. सभी चोर भाग तो नहीं सके, अन्दर ही छुप गए. shekh chilli ऊपर बने कपाट पर जाकर छुप गए.

लोगों ने चोरो को ढूँढना शुरू कर दिया. थोड़ी देर में एक चोर पकड़ा गया. लोगों ने उसकी जमकर कुटाई कर दी.

उसके बाद उन्होंने पूछा “क्यों आया यहाँ पर ‘

उसने बोला ” ऊपर वाला जाने “

लोगों ने पूछा “क्या क्या चुराया “

उसने बोला ” ऊपर वाला जाने “

लोगों ने सोचा भले ही चोर है , लेकिन बन्दा अच्छा है तभी तो हर बात में अल्लाह का नाम ले रहा है. तभी धडाम की आवाज आई और shekh chilli चीखते हुए बोला. सब ऊपर वाला ही क्यों जाने . वह जो आलमारी के पीछे छुपा उसे भी सब पता है. जो बेड के नीचे छुपा है वह भी सब जानता है. लोगों ने सभी चोरों को पकड़ लिया और जमकर धुनाई कर दी और मौके का फायदा उठाते हुए shekh chilli वहाँ से सरक लिए. मित्रों यह shekh chilli ki kahani ऊपर वाला जाने कैसे अवश्य बताएं और भी अन्य hindi stories की लिए इस ब्लॉग को सबस्क्राइब ककर लें. दूसरी hindi story के लिए इस लिंक https://www.hindibeststory.com/tirskar-hindi-stories/पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

Leave a Comment