You cannot copy content of this page
image

jute ki photo

jute ki photo
jute ki photo

jute ki photo इस पोस्ट में आपको जुटे की इमेज दी जा रही है और मुझे उम्मीद है कि यह इमेजेस आपको पसंद आएँगी. आप इन्हें फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं. इसके साथ ही आपको एक hindi kahani भी दी जा रही है जिसे आप पढ़ें और आनंद लें.

एक बार एक शिक्षक संपन्न परिवार से सम्बन्ध रखने वाले एक युवा शिष्य के साथ कहीं टहलने निकले. उन्होंने देखा की रास्ते में पुराने हो चुके एक जोड़ी जूते उतरे पड़े हैं , जो संभवतः पास के खेत में काम कर रहे गरीब मजदूर के थे जो अब अपना काम ख़त्म कर घर वापस जाने की तयारी कर रहा था. तभी शिष्य को मजाक सुझा उसने गुजी जी से कहा क्यों ना हम यह जूते झाड़ियों में छिपा देते हैं, जब मजदूर जूते ना पाकर घबराएगा तो बहुत मजा आएगा.

jute ki photo

jute

jute ki photo

juta

jute ki photo

juta

शिक्षक समझदार थे. उन्होंने कहा कि किसी गरीब के साथ इस तरह भद्दा करना ठीक नहीं है. हम एक काम करते हैं इस जूते में कुछ पैसे रख देते हैं और झाड़ियों में छिपकर देखते हैं कि मजदूर की क्या प्रतिक्रया होती है. वे जूते में पैसा रखकर पास की झाडी में छुप गए.

मजदूर जल्द ही अपना काम ख़त्म कर जूतों की जगह पर आ गया . उसने जैसे ही एक पैर जूते में डाले उसे किसी कठोर चीज का आभास हुआ. उसने जल्दी से जूते हाथ में लिए और देखा की अन्दर कुछ सिक्के पड़े थे.उसे बड़ा आश्चर्य हुआ और वो सिक्के हाथ में लेकर बड़े गौर से उन्हें पलट -पलट कर देखने लगा.

jute ki photo

juta

jute ki photo

jute ki photo

jute ki photo

juta

jute ki photo

juta

फिर उसने इधर -उधर देखने लगा लेकिन कहीं कोई नजर नहीं आया तो उसने सिक्के अपनी जेब में डाल लिए. अब उसने दूसरा जूता उठाया तो उसमे भी सिक्के पड़े थे. मजदूर भावविभोर हो गया , उसकी आँखों में आंसू आ गए , उसने हाथ जोड़ ऊपर देखते हुए कहा ” हे भगवान् उचित समय पर सहायता करने वाले राहगीर और उसके माध्यम से सहायता कराने मेरे प्रभु आपको कोटि-कोटि नमस्कार. आज इन पैसों से मैं अपनी बीमार लड़की की दवा करा सकूँगा “.

यह देख शिष्य की आंखे भर आयीं और उसने प्रण किया कि वह सदैव ही गरीबों की मदद करेगा और किसी का मजाक नहीं उडाएगा. मित्रों आपको मेरी hindi kahai jute ki photo कैसी लगी जरुर बताएं और इस तरह की hindi kahani के लिए इस ब्लॉग को सबस्क्राइब करें और दूसरी hindi kahani के लिए इस लिंक जीवन की गणित moral stories in hindi पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

1 Comment

Leave a Comment