You cannot copy content of this page
kids/cinderella story

hindi story भिखारी और राजा

hindi story भिखारी और राजा
hindi story भिखारी और राजा
Written by Hindibeststory

hindi story भिखारी और राजा बहुत समय पहले की बात है. एक राज्य में एक भिखारी रहता था . एक दिन जब राजा कहीं जा रहे थे . वह भिखारी रास्ते में बैठा हुआ था . तभी वहां से जा रहे राजा का रथ उसके पास आकर रुक गया. राजा रथ से निकलकर भिखारी के पास गए और कहा कि मुझे भीख में थोड़ा-सा अनाज दे दीजिए. मुझे मेरे गुरु ने ककहा है कि तुम्हे आज किसी भिखारी से भीख लेनी है , वरना तुम्हारे राज्य पर गहरा संकट छा सकता है. आपको मेरी मदद करनी होगी, कृपया मुझे भीख दे दीजिए.

इस बात को सुनकर भिखारी हैरान हुआ कि उसके राजा उससे भीख मांग रहे हैं. भिखारी राजा को ना भी नहीं कह सकता था. उसने अपनी झोली में हाथ डाला और मुट्ठी में अनाज भर लिया. तभी वह सोचने लगा कि मैं अगर इतना अनाज राजा को दे दूंगा तो मेरा क्या होगा. मुझे राजा को कम अनाज ही देना चाहिए . इसके बाद उसने कुछ अनाज मुठ्ठी से झोली में गिरा दिया. भिखारी से अनाज लेने के बाद राजा ने उसे मंत्री को दिया. इसके बदले में राजा ने भिखारी को एक पोटली दी और भिखारी से कहा कि तुम इसे लेकर घर चले जाना और वहीं पर पोटली को खोलना.

hindi story

जब भिखारी घर पर गया तो उसने पूरी बात अपनी पत्नी को बताएं और वह पोटली निकालकर खोली तो उसमें सोने के सिक्के थे. पोटली खोलने के बाद भिखारी को समझ में आ गया कि मैंने जितना अनाज राजा को दिया था, उन्होंने मुझे उतने ही सोने के सिक्के दिए. यह सोचकर भिकारी को बहुत दुख हुआ कि उसने राजा को कम अनाज क्यों दिया. अगर मैं उनको ज्यादा अनाज देता तो उसका पूरा जीवन सफल हो जाता.

इस कहानी से यही सीख मिलती है कि हम किसी की जितनी मदद करते हैं, वह हमें किसी ना किसी रूप में मिल जाती है. इसी कारण किसी को भी मदद करते वक्त गलत विचार नहीं सोचना चाहिए और किए हुए दान के बारे में जिक्र भी नहीं करना चाहिए. मित्रों आपको मेरी यह story hindi hindi story भिखारी और राजा कैसी लगी जरुर बताएं और hindi story की तरह की और भी कहानी के लिए इस hindi blog को लाइक , शेअर और सबस्क्राइब करें और दूसरी story hindi के लिए इस लिंक hindi story पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

1 Comment

Leave a Comment