Biography

yogi adityanath . yogi adityanath news . योगी आदित्यनाथ 

yogi adityanath . yogi adityanath news . योगी आदित्यनाथ 
Written by Abhishek Pandey

yogi adityanath . yogi adityanath news . योगी आदित्यनाथ योगी आदित्यनाथ वर्तमान में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं. वे उत्तर प्रदेश के प्रसिद्ध गोरखनाथ मंदिर के महंत हैं. आईये योगी आदित्यनाथ के बारे में जानते हैं.

yogi adityanath full name – श्री अजय सिंह बिष्ट बाद में योगी आदित्यनाथ

yogi adityanath father – श्री आनंद सिंह बिष्ट

yogi adityanath mother – श्रीमती सावित्री देवी

yogi adityanath date of birth – ५ जून १९७२

योगी आदित्यनाथ का जन्मदिन – ५ जून

योगी आदित्यनाथ का जन्म स्थान – पंचुर , पौड़ी गढ़वाल , उत्तराखंड

yogi adityanath education –

yogi adityanath राजनितिक दल – भारतीय जनता पार्टी

yogi adityanath सम्प्रदाय – नाथ सम्प्रदाय

yogi adityanath धर्म – हिन्दू धर्म

योगी आदित्यनाथ का जन्म ५ जून १९७२ को उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल के यमकेश्वर तहसील के पंचुर गाँव में हुआ है. yogi adityanath के पिता का नाम श्री आनंद सिंह बिष्ट है और माता का नाम श्रीमती सावित्री विष्ट है. योगी आदित्यनाथ के पिता एक फारेस्ट रेंजर हैं. योगी आदित्यनाथ कुल ७ भाई बहन हैं. योगी आदित्यनाथ के ३ बड़ी बहन और १ बड़े भाई हैं और २ छोटे भाई हैं.

 

yogi adityanath education – योगी आदित्यनाथ की शिक्षा

 

योगी आदित्यनाथ की पढ़ाई सन १९७७ में टिहरी के गजा में स्थित स्कूल में पढाई शुरू की सन १९८७ में यहाँ से ही उन्होंने १०वीं की परीक्षा दी. सन १९८९ में ऋषिकेश के श्री भरत मन्दिर इण्टर कॉलेज से इन्होंने इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की. १९९० में ग्रेजुएशन की पढ़ाई की और साथ में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े. सन १९९२ में श्री नगर के हेमवती नंदन बहुगुणा गढवाल विश्वविधालय से इन्होने गणित ममें बीएससी(B.Sc) की परीक्षा पास की. योगी आदित्यनाथ जी की पढाई में बाधाएं आई जब वे कोटद्वार में रह रहे थे उस दोरान उनके कमरे से उनका सामान चोरी हो गया जिसमे इनके सनत प्रमाण पात्र भी थे.

 

जिसके कारण उन्हें ऋषिकेश में दुबारा दाखिला लेना पड़ा , लेकिन उसी दौरान हो रहे राम मंदिर आन्दोलन से उनका ध्यान बंट गया . सन १९९३ में गणित से M.Sc के दौरान गोरखपुर प्रवास के दौरान ही गुरु गोरखनाथ पर शोध करने के दौरान योगी जी उस समय के मंदिर के महंत रहे गुरु अवैद्यनाथ के संपर्क में आये . उनसे योगी जी इतने प्रभावित हुए की महंत अवैद्यनाथ की शरण में चले गए और उनसे दीक्षा ले ली और १९९४ में उनका नाम अजय सिंह बिष्ट से योगी आदित्यनाथ हो गया. १२ सितंबर २०१४ को गोरखनाथ मंदिर के पूर्व महन्त अवैद्यनाथ के निधन के बाद इन्हें यहाँ का महंत बनाया गया। 2 दिन बाद इन्हें नाथ पंथ के पारंपरिक अनुष्ठान के अनुसार मंदिर का पीठाधीश्वर बनाया गया.

 

yogi adityanath का राजनितिक करियर और हिन्दू युवा वाहिनी

 

सबसे पहले मात्र २६ वर्ष की आयु में योगी आदित्यनाथ ने भाजपा के चुनाव चिन्ह पर सन १९९८ में लोकसभा का चुनाव लडे और जीत हासिल की. वे बारहवीं लोकसभा के सबसे युवा सांसद बने. अप्रैल २००२ ने उन्होंने हिन्दू युवा वाहिनी का गठन किया . २००४ में तीसरी बार योगी जी ने लोकसभा का चुनाव जीता. २००९ में एक बार फिर इन्होने २ लाख से ज्यादा मतों से जीत हासिल की. २०१४ में पांचवी बार इन्होने जीत हासिल की. इसके बाद हुए उत्तर २०१७ के उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में योगी जी ने पुरे उत्तर प्रदेश में प्रचार किया . इसके लिए उन्हे एक हेलीकाप्टर दिया गया था. इस चुनाव में भाजपा की जीत हुई और १९ मार्च २०१७ को बीजेपी विधायक दल की बैठक में योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बनाया गया. हालांकि पहले और भी नामों पर विचार किया गया जिसमें रेल राज्य मंत्री मनोह सिन्हा का नाम काफी ऊपर था ,लेकिन आखिर में पार्टी ने योगी आदित्यनाथ को ही मुख्यमंत्री बनाया.

 

योगी आदित्यनाथ से जुड़े कई विवाद भी हैं.७ सितम्बर 2008 को योगी आदित्यनाथ पर आजमगढ़ में जानलेवा हिंसक हमला हुआ था. इस हमले में वे बाल-बाल बचे. हमला इतना बड़ा था कि सौ से अधिक वाहनों को हमलावरों ने घेर लिया और लोगों को लहूलुहान कर दिया. आदित्यनाथ को गोरखपुर दंगों के दौरान तब गिरफ्तार किया गया जब मुस्लिम त्यौहार मोहर्रम के दौरान फायरिंग में एक हिन्दू युवा की जान चली गयी. जिलाधिकारी ने बताया कि वह बुरी तरह जख्मी है. तब अधिकारियों ने योगी को उस जगह जाने से मना कर दिया परन्तु आदित्यनाथ उस जगह पर जाने को अड़ गए. तब उन्होंने शहर में लगे कर्फ्यू को हटाने की मांग की. अगले दिन उन्होंने शहर के मध्य श्रद्धांजलि सभा का आयोजन करने की घोषणा की लेकिन जिलाधिकारी ने इसकी अनुमति देने से मना कर दिया. आदित्यनाथ ने भी इसकी चिंता नहीं की और हजारों समर्थकों के साथ अपनी गिरफ़्तारी दी. आदित्यनाथ को सीआरपीसी की धारा 151A, 146, 147, 279, 506 के तहत जेल भेज दिया गया. उनपर कार्यवाही का असर हुआ कि मुंबई-गोरखपुर गोदान एक्सप्रेस के कुछ डिब्बे फूंक दिए गए, जिसका आरोप उनके संगठन हिन्दू युवा वाहिनी पर लगा. यह दंगे पूर्वी उत्तर प्रदेश के छह जिलों और तीन मंडलों में भी फैल गए. उनकी गिरफ़्तारी के अगले दिन जिलाधिकारी हरि ओम और पुलिस प्रमुख राजा श्रीवास्तव का तबादला हो गया. कथित रूप से आदित्यनाथ के ही दबाव के कारण मुलायम सिंह यादव की उत्तर प्रदेश सरकार को यह कार्यवाही करनी पड़ी.

 

मित्रों आपको यह जानकारी yogi adityanath . yogi adityanath news . योगी आदित्यनाथ कैसी लगी जरुर बताएं औरyogi adityanath . yogi adityanath news . योगी आदित्यनाथइस तरह के और भी पोस्ट के लिए इस ब्लॉग को लाइक , शेयर और सबस्क्राइब करें और दूसरी जानकारी के लिए नीचे की लिंक पर क्लिक करें.

1-mahatma gandhi biography in hindi. महात्मा गाँधी जीवन परिचय

2-real bhoot story

3-short love story

About the author

Abhishek Pandey

Leave a Comment